Skip to content
मुख्यपृष्ठ » जानकारी » Fauji ko kabu kaise kare फौजी को काबू कैसे करें हिन्दी में

Fauji ko kabu kaise kare फौजी को काबू कैसे करें हिन्दी में

आर्मी तो हमारे देश की शान हैं, इसलिए आर्मी के बारे ये सोचना भी गलत है। फौजी को काबू कैसी करें के तरीके यदि आप गूगल से पूछ रहे हों तो मैं आपको सरल शब्दों में समझा दूं कि आप फौजी को कभी अपने कंट्रोल में नही कर सकते हैं। क्योंकि फौजी जैसे इंसान यदि अपनी जिद पर अड़ जाए तो वो जो चाहते हैं वही होता है।

इसलिए अगर आप आर्मी को काबू करने के बारे में सोच रहे तो आप सोचते ही रहने वाले हों। क्योंकि आप इनको कभी काबू नहीं कर सकते फौजी को काबू करना मुश्किल ही नहीं बल्कि न मुम्किन हैं। इसलिए ये बेटा फौजी को काबू करने की बात तो अपन जेहन से निकाल ही दो।

Fauji ko kabu kaise kare फौजी को काबू कैसे करें हिन्दी में

फौजी को काबू कैसे करें

याद रहें आप फौजी को काबू नहीं कर सकते। पर अगर आप चाहो तो उनसे दोस्ती कर सकते हो। अगर आप उनसे अच्छा रिलेशनशिप बनाना चाहते हो तो निम्न बातों का ख्याल रखें।

देशभक्ति की बात करें

सभी लोगों को अपने देश से प्यार होता है। और उन्हे देशभक्ति की बातें करना पसन्द होता हैं। Same उसी तरह से फौजी को देशभक्ति की बाते बहुत ही ज्यादा पसंद होती है। अगर आप फौजी को अपने काबू में करना चाहते है तो इसके लिए आपको फौजी के साथ देशभक्ति की बात करनी जरुरी है इससे फौजी काफी खुश हो जाते है और आप फौजी से अच्छा bond बना सकते हो।

 फौजी को काबू कैसे करें शायरी

ना किसी हुस्न की चाहत हे

मेरा तिरंगा ही मेरी ताकत हे

में तो आशिक हु इस तिरंगे का

और मेरा महबूब मेरा भारत हे

हौसला बढ़ाने वाली बात करें

अक्सर लोग ऐसी बातें करतेहैं जिससे सामने वाले काहौसला टूटजाए। अगर आपको किसी से अच्छा रिलेशनशिप बनाना है याफीर उसको अपने काबू में करना है तो उसके सामने हौसला बढ़ाने वाली बाते करें व उसको सपोर्टकरें। अगर आप फौजी को अपना दोस्त बनाना चाहते हो तो ध्यान रखें की आप कभी भी भूलकर भी फौजी के सामने हौसला तोड़ने वाली बात न करे।

फौजी शायरी हिंदी

कुछ नशा तिरंगे की आन का हे

कुछ नशा मातृभूमि की शान का हे

हम लहरायेंगे तिरंगा हर जगह

नशा ये हिंदुस्तान की शान का हे

सम्मानजनक शब्दों का इस्तमाल करें

हर व्यत्कि से सम्मानजनक शब्दों में बात करना हमारी संस्कृति होती है कोई भी व्यक्ति किसी से सम्मानजनक शब्दों में बात करता है तो यह उसके अच्छे संस्कार को व्यक्त करता है वही जो लोग सम्मानजनक शब्दों का इस्तमाल नहीं करते वो कभी किसी के साथ अच्छे से व्यवहार नहीं कर पाते। इसलिए अगर आप किसी को काबू में करना चाहते हो या दोस्त बनाना चाहते हो तो उसका सम्मान करना व उससे सम्मानजनक शब्दों का प्रयोग करना बेहद ही जरुरी हैं। इसलिए जिस फौजी भाई से आप अपनी बात मनाना चाहते हैं या दोस्ती करना चाहते हैं उनसे अच्छे से और सम्मान देकर बात करें।

उनके साथ समय बिताए

जैसे की आप सब जानते हैं किसी भी व्यक्ती को काबू में करना चाहते हो याफीर दोस्त बनाना चाहते हो तो उसके साथ रहना, उसके साथ समय बिताना बहुत ही जरुरी हैं। क्योंकि साथ समय बिताने से ही हम उसके बारे में पता लगा सकते हैं की वो आदमीकैसा हैं। आप जीतना समय जिस व्यक्ति के साथ बिताते है आप उसके उतने ही अच्छे दोस्त बन पाते है। ठीक उसी तरह से आप फौजी के साथ ज्यादा समय बिताएंगे तो धीरे धीरे आप दोनों एक दूसरे को समझने लगेंगे और आप दोनों के बिच मित्रता बढ़ने लगेगी। और वैसे भी फौजी भाई अपने घर वालो से दूर रहते हैं इसलिए अगर आप उनके साथ समय बिताते हैं। उनसे अच्छी बातें करते हैं तो आप जल्दी से उनको दोस्त बना सकते हों।

तो ये कुछ प्वाइंट्स थे जिसकी हेल्प से आप आसानी से किसी भी फौजी भाई को मित्र बना सकते हों। पर याद रहें किसी फौजी को काबू करने की बात तो भूल ही जाओ।

फौजी को काबू में किया जा सकता है ?

आज तक ऐसा कोई पैदा नहीं हुआ है जो इंडियन आर्मी को काबू में कर सके। अभी तक किसी देश का दुश्मन भी फौजी को काबू नहीं कर पाया। प्लेन क्रैश पर फौजी अभिनंदन पाकिस्तान में जा गिरा फीर भी पाकिस्तान वाले  इनको काबू नहीं कर पाया तो तुम किस खेत की मूली हो। और याद रहें भारत के सभी जवान अभिनंदन ही हैं।

ये हमारे देश के वो फौजी भाई वीर जवान हैं जो 0 डिग्री सेल्सियस से लेकर 50 डिग्री सेल्सियस के तापमान में भी बॉर्डर पर खड़े रह सकते है। फौजी भाई जो अपने जान की परवाह किए बिना आतंकी को अपने घर में घुसकर मारने की हिम्मत रखते हैं, उसे कौन काबू में कर सकता हैl

Army shayari in Hindi

कश्मीर में गर्मी नहीं होती

मुंबई में सर्दी नहीं होती

हम भी घर जाकर हर त्यौहार मानते

अगर हमारे जिस्म में ये वर्दी न होती

सभी जवानों को दिल से सलामी…जय हिंद

Website | + posts

सबसे पहेले ओर सबसे तेज सटीक खभर। अधिक जानकारी के लिए हमारे साथ जुड़े रहे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *